देश/प्रदेश

एक जैसे दो खाता संख्या मामले में बैंक ने सुधारी गलती

भिंड, मध्य प्रदेश के भिंड में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की आलमपुर शाखा के अधिकारियों ने दो ग्राहकों को एक ही खाता नंबर जारी करने की गलती में सुधार कर लिया है। एक ही खाता नंबर होने पर एक ग्राहक रकम जमा करता रहा और दूसरा ग्राहक रुपये निकालता रहा। यह क्रम करीब एक साल तक चलता रहा।

जमा कराने वाले के खाते में बैंक ने डाले 81 हजार रुपये

बैंक ने अपनी ओर से अब उस ग्राहक के खाते में 81 हजार 60 रुपये जमा कराए हैं, जिसके पैसे दूसरे ग्राहक ने निकाल लिए थे। नए खाता नंबर के साथ नई पासबुक सोमवार को दी जाएगी।

रकम निकालने वाले से बैंक ने रकम वापस करने का लिया लिखित आश्वासन

खाते से रकम निकालने वाले ग्राहक से बैंक प्रबंधन ने लिखित में आश्वासन लिया है कि वह दो माह में निकाली गई रकम वापस करेगा। ऐसा न करने पर उसके खिलाफ एफआइआर कराई जाएगी।

आलमपुर के रूरई गांव निवासी हुकुम सिंह कुशवाह हरियाणा में गोलगप्पे बेचने का काम करते हैं। उन्होंने आलमपुर की एसबीआइ शाखा में बचत खाता खुलवाया था। बैंक से उन्हें 12 नवंबर 2018 को पासबुक दी गई। इसमें ग्राहक संख्या 88613177424 थी और बचत खाता संख्या 20313782314 थी। हुकुम सिंह हरियाणा से इस खाते में समय-समय पर रुपये जमा कराते रहे।

इधर इससे पहले रोनी गांव निवासी हुकुम सिंह बघेल को बैंक की ओर से यही ग्राहक संख्या और इसी खाता नंबर की पासबुक जारी की गई थी। बघेल ने खाता आधार नंबर से लिंक करा लिया था। हरियाणा से हुकुम सिंह कुशवाह रकम जमा कराते और यहां हुकुम सिंह बघेल उसे अपना समझ निकाल लेते।

बीते दिनों मामला सामने आने के बाद कुशवाह ने बैंक प्रबंधन से शिकायत की थी। लापरवाही का पता लगते ही बैंक प्रबंधन के हाथ-पांव फूल गए थे।

रुपये निकालने वाले ने कहा- मैंने समझा कि मोदी जी खाते में पैसा जमा करा रहे हैं

रुपये निकालने वाले बघेल ने मीडिया को बताया कि वे समझ रहे थे कि मोदी जी खाते में पैसा जमा करा रहे हैं, इसलिए उन्होंने कोई पूछताछ नहीं की और रकम निकालते रहे।

रविवार को बैंक ने बुलाया और निकाली गई रकम जमा की, दिया नया खाता नंबर

हुकुम सिंह कुशवाह ने बताया कि रविवार को बैंक मैनेजर राजेश सोनकर ने उन्हें बुलाया। ग्वालियर से आए दो अधिकारी भी साथ थे। बैंक में उन्हें बताया गया कि उनको नया खाता नंबर दिया जा रहा है। इस खाते में बघेल द्वारा निकाले गए 81 हजार 60 रुपये जमा कराए गए। नए खाते की पासबुक सोमवार को दी जाएगी।

हुकुम सिंह कुशवाह का कहना है कि प्रबंधन ने हुकुम सिंह बघेल को भी बुलवाया था। बघेल का खाता नंबर भी बदला जा रहा है। जानकारों के मुताबिक बैंक में इस तरह के मामलों में भरपाई के लिए एक विशेष खाता होता है। फिलहाल उसी खाते से रुपये जमा कराए गए हैं।

विशेष