देश/प्रदेश

खतरे को ध्यान में रखते हुए हरकी पैड़ी पर होने वाली गंगा आरती में श्रद्धालुओं के प्रवेश पर रोक

हरिद्वार: कोरोना वायरस के प्रकोप से बचने के लिए राज्य सरकार ने कई महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं. इसके साथ ही प्रदेश के बड़े मंदिरों और सार्वजनिक जगहों को 31 मार्च तक बंद कर दिया गया है. इसी कड़ी में हरिद्वार जिला प्रशासन ने भी हरकी पौड़ी पर होने वाली मां गंगा की आरती श्रद्धालुओं के शामिल होने पर रोक लगा दी है. श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए गंगा आरती की लाइव स्ट्रीमिंग होगी.

गंगा सभा के महामंत्री तन्मय वशिष्ठ ने बताया कि गंगा आरती के समय हरकी पौड़ी पर श्रद्धालुओं का प्रवेश वर्जित रहेगा. गंगा आरती की लाइव स्ट्रीमिंग यूट्यूब और फेसबुक पर की जाएगी. लोगों की सुरक्षा के लिए ही यह कदम प्रशासन द्वारा उठाए गए हैं. उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस एक वैश्विक आपदा है. पूरे विश्व में हजारों लोग इस वायरस की वजह से जान गवा चुके हैं. कोरोना वायरस से सावधानी ही बचाव है. पूरे देश में कई मंदिरों में श्रद्धालुओं के जाने पर रोक लगा दी गई है.

बता दें, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने राज्य में कोरोना वायरस को महामारी घोषित कर दिया है. सभी सार्वजनिक जगहों पर लोगों के जाने पर पाबंदी लगी है. बड़े मंदिरों को बंद कर दिया गया है.

हेल्पलाइन नंबर जारी

फेसबुक, ट्विटर और व्हाट्सएप पर कोरोना वायरस को लेकर फैलाई जा रही अफवाहों से निपटने के लिए देहरादून पुलिस ने अपनी कमर कस ली है. सोशल मीडिया पर किसी भी प्रकार की अफवाह की सत्यता जानने के लिए देहरादून पुलिस द्वारा हेल्पलाइन नंबर 9412080720 जारी किया गया है. इस नंबर पर कोई भी व्यक्ति मैसेज कर सवाल-जवाब कर सकता है. इसके साथ ही सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों की शिकायत इस नंबर पर की जा सकती है.

विशेष