राष्ट्रीय

बाहुबली हरिशंकर तिवारी के दोनों बेटे विनय और कुशल कल सपा में होंगे शामिल

हरिशंकर तिवारी के दोनों बेटे विनय शंकर और कुशल तिवारी कल सपा में शामिल होंगे. पूर्वांचल की सियासत में ब्राह्मण चेहरा माने जाने वाले पूर्व मंत्री हरिशंकर तिवारी का परिवार बसपा छोड़कर सपा के नाता जोड़ने वाला है. अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले हरिशंकर तिवारी के परिवार की सपा में एंट्री से पूर्वांचल की राजनीतिक पर बढ़ा प्रभाव पड़ेगा. इससे सिर्फ बसपा ही नहीं बीजेपी की राजनीति पर भी प्रभाव पड़ेगा.

सपा में शामिल होने की संभावनाएं के बीचे हरिशंकर परिवार को बीएसपी ने पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया है. हरिशंकर तिवारी के छोटे बेटे विधायक विनय शंकर तिवारी और बड़े बेटे पूर्व सांसद कुशल तिवारी और भतीजे गणेश शंकर पांडे को बीएसपी ने निष्कासित कर दिया है. हरिशंकार तिवारी परिवार अब सपा में शामिल होने जा रहा है. इससे पूर्वांचल में बीएसपी के साथ-साथ बीजेपी के लिए भी बड़ी चुनौती खड़ी हो गई है.

पूर्वाचंल की राजनीति ब्राह्मण बनाम ठाकुर है. इसी के साथ हरिशंकर तिवारी और सीएम योगी आदित्यनाथ के बीच की राजनीतिक जंग भी किसी से छिपी नहीं है. ऐसे में तिवारी परिवार के सपा में शामिल होने से अखिलेश यादव को पूर्वांचल में ब्राह्मण चेहरा मिल गया है. हरिशंकर तिवारी को सीएम योगी के विरोधी नेता के तौर पर जाना जाता है.

Leave a Response