देश/प्रदेश

मानीखेत में सरयू नदी पर रेता खनन के ठेके देने का ग्रामीणों ने किया विरोध

बागेश्वर: मानीखेत में सरयू नदी पर रेता खनन को ठेके में देने का ग्रामीणों ने विरोध किया है। उन्होंने गुरुवार को कलक्ट्रेट में प्रदर्शन किया। उन्होंने जिस स्थान पर खनन होना है, वह ग्रामीणों का समाधि स्थल या श्मशान घाट है। उन्होंने जल्द ठेके पर रोक लगाने को कहा। मांग नहीं माने जाने पर आंदोलन और आत्महत्या जैसे कदम उठाने की धमकी भी दी है। ग्राम पंचायत ग्वाड़ के तोक मानीखेत गांव में सरयू नदी पर खनन का काम ठेके में हो रहा है।

ग्रामीणों का कहना है कि जहां पर खनन किया जा रहा है, वह स्थान गोस्वामी परिवारों की समाधि स्थल है। यहां पर खनन से उनकी भावनाएं आहत हो रही हैं। उन्होंने जिलाधिकारी को दिए ज्ञापन में बताया कि इस बावत विरोध भी दर्ज कराया गया था, जिसके बाद भी वहां पर खनन रोकने के कोई उपाय नहीं हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि अगर ग्रामीणों की इच्छा के खिलाफ खनन हुआ तो लोग उग्र आंदोलन को बाध्य होंगे। उन्होंने जरूरत पड़ने पर आत्महत्या जैसा कदम उठाने की भी चेतावनी दी। इस मौके पर गोपाल सिंह, देवकी देवी, अंजू गोस्वामी, शंकर गिरी, मोहनी देवी, भावना शिव गिरी सहित तमाम ग्रामीण मौजूद थे।

विशेष