देश/प्रदेश

सुशासन दिवस के रूप में मनाई अटल की जयंती

देहरादून, पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की 96वीं जयंती सुशासन दिवस के रूप में मनाई गई। इस मौके पर भाजपा ने प्रदेश से लेकर बूथ स्तर पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए, जिनमें स्वर्गीय वाजपेयी का भावपूर्ण स्मरण किया गया।

प्रदेश भाजपा मुख्यालय में हुई संगोष्ठी में पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर रोशनी डालते हुए उत्तराखंड के गठन और राज्य के विकास में उनके योगदान को याद किया गया।

संगोष्ठी में भाजपा नेताओं ने कहा कि प्रखर राष्ट्रवाद एवं राष्ट्रवादी राजनीति के जन्मदाता के रूप में स्वर्गीय वाजपेयी को हमेशा याद रखा जाएगा। वाजपेयी ने राजनीति में उच्च मानदंडों को स्थापित किया।

साथ ही भारत को विश्व में नई पहचान दिलाई। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड की स्थापना में स्वर्गीय वाजपेयी के योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता। यही नहीं, राज्य को विशेष औद्योगिक पैकेज देकर यहां रोजगार के साधन उपलब्ध कराने की दिशा में पहल की।

इस अवसर पर पार्टीजनों ने अटल बिहारी वाजपेयी से जुड़े संस्मरण भी सुनाए। संगोष्ठी में दायित्वधारी नरेश बंसल, विधायक एवं प्रदेश महामंत्री खजानदास, प्रदेश मीडिया प्रमुख डॉ.देवेंद्र भसीन, प्रदेश महामंत्री अनिल गोयल, वरिष्ठ नेता पुनीत मित्तल, इंदुबाला, रविंद्र कटारिया, भाष्कर नैथानी, बृजभूषण गैरोला, भगवत प्रसाद मकवाना आदि ने विचार रखे।

संचालन प्रदेश कार्यालय सचिव पुष्कर काला ने किया। इससे पहले पार्टीजनों ने स्वर्गीय वाजपेयी के चित्र पर पुष्पांजलि कर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए। संगोष्ठी में काफी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता मौजूद थे।

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी देश के एक कुशल शासक रहे। उनके निर्णय भी उनकी ही तरह अटल होते थे।

अटल ने सदैव सुशासन के लिए प्रशासनिक और राजनीतिक सुधारों को लागू करवाया। यह बातें भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सांसद अजय भट्ट ने अटल की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में कहीं।

अटल बिहारी बाजपेयी की जयंती पर भाजपा महानगर कार्यालय में भव्य कार्यक्रम आयोजित किया गया।

जिसमें कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने अटल बिहारी को कार्यकर्ताओं के लिए प्रेरणा पुंज बताया। उन्होंने कहा कि यह उन जैसे महान पुरुषों की ही थाती है कि आज पार्टी यहां तक पहुंची है।

नवनिर्वाचित महानगर अध्यक्ष सीताराम भट्ट ने कार्यकर्ताओं को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला का उदाहरण दिया कि कैसे ईमानदारी से कार्य करके वह कार्यकर्ता से लोकसभा अध्यक्ष बने।

टिहरी सांसद माला राज्य लक्ष्मी शाह ने कार्यकर्ताओं से कहा कि सीताराम भट्ट के नेतृत्व में एक टीम की तरह कार्य करें और 2022 की तैयारी में जुट जाएं। प्रदेश महामंत्री एवं राजपुर रोड विधायक खजान दास ने भी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया।

विशेष