सुनो सरकार

ठेकेदारों से पांच गुना रायल्टी वसूले जाने संबंधी आदेश को लेकर बढ़ा आक्रोश

द्वाराहाट (अल्मोड़ा)। ठेकेदारों से पांच गुना रायल्टी वसूले जाने संबंधी आदेश को लेकर आक्रोश थमने का नाम नहीं ले रहा है। ठेकेदारों ने डीएम को ज्ञापन भेजकर कहा कि निर्णय वापस नहीं लिया गया तो वे लोग आपदा में लगी मशीनों को हटा लेंगे और निर्माण कार्य भी ठप कर देंगे।

ठेकेदारों ने एसडीएम जयवर्धन शर्मा के माध्यम से डीएम को ज्ञापन भेजकर कहा कि पांच गुना रायल्टी वसूले जाने का निर्णय तानाशाही पूर्ण है। कहा कि पत्थरों की रायल्टी जहां पूर्व में दो प्रतिशत 200 रुपये घन मीटर थी उसे सीधे 10 प्रतिशत पांच गुना यानी एक हजार रुपये प्रति घन मीटर कर दिया गया है। वहां पर निर्मल मठपाल, उम्मेद सिंह अधिकारी, नंदन राम, कैलाश अधिकारी, युगल किशोर आर्य, पंकज आर्या, अतुल साह, गौरव भट्ट, खीम सिंह, हेम चंद्र उपाध्याय आदि थे।

डीएम से मिले ठेकेदार
अल्मोड़ा। ठेकेदार यूनियन ने सरकारी विभागों में हो रहे निर्माण कार्यों में पांच गुना अधिक रायल्टी वसूलने के शासनादेश का विरोध किया है। यूनियन के पदाधिकारी बृहस्पतिवार को डीएम वंदना से मिले और उनके माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा। इधर, ठेकेदारों की एक बैठक 15 जुलाई को प्रेरणा सदन अल्मोड़ा में सुबह 11 बजे से होगी। वहां पर विक्रम बिष्ट, चंद्रशेखर, बीके पांडेय, देवेंद्र सिंह, गोपाल सिंह देव, गोपाल मेहता, पूरन मेहरा, प्रकाश नेगी आदि थे।

Leave a Response