देश/प्रदेश

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने लगाई झाड़ू

देहरादून :मानदेय वृद्धि समेत विभिन्न मांगों को लेकर आंदोलनरत आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने स्वच्छता अभियान चलाकर सरकार का विरोध किया। अब आंगनबाड़ी कार्यकर्ता रक्तदान करेंगी।

परेड ग्राउंड स्थित धरना स्थल पर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का आंदोलन 19वें दिन भी जारी रहा। एक ओर कुछ आंदोलनकारी क्रमिक अनशन पर बैठे रहे, जबकि दूसरी ओर अन्य ने धरना स्थल के आसपास सफाई अभियान चलाकर कूड़ा एकत्रित किया।

इस मौके पर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका संगठन की अध्यक्ष रेखा नेगी ने कहा कि जब तक सरकार उनकी मांगों पर अमल नहीं करती, आंदोलन जारी रहेगा।

आंदोलन के क्रम में दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल के सहयोग से धरना स्थल पर ही रक्तदान शिविर का आयोजन किया जाएगा। इसके बाद आगे की रणनीति पर मंथन किया जाएगा।

वहीं, चार जनवरी को प्रस्तावित महारैली को लेकर भी तैयारियां तेज कर दी गई हैं। प्रदेशभर की सभी कार्यकर्ताओं से महारैली में शामिल होने का आह्वान किया गया है।

उन्होंने बताया कि संगठन की प्रमुख मांगों में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का न्यूनतम मानदेय 18 हजार रुपये करना, पदोन्नति, मोबाइल फोन से अनावश्यक पाबंदियां हटाने की आदि शामिल हैं।

इसके अलावा बजरंग दल के सदस्यों ने भी धरना स्थल पहुंचकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को समर्थन दिया और सरकार से कार्रवाई की मांग की।

वहीं, दर्जाधारी स्वामी दर्शन भारती ने भी धरना स्थल पहुंचकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की समस्याएं सुनीं। उन्होंने आश्वासन दिया कि वे आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की समस्याओं से मुख्यमंत्री को अवगत कराएंगे और समाधान का आग्रह करेंगे।

उत्तराखंड जनरल ओबीसी इंप्लाइज एसोसिएशन ने पदोन्नति पर लगी रोक को बिना आरक्षण के हटाने की मांग को लेकर यमुना कॉलोनी स्थित मंत्रियों के आवास तक कैंडल मार्च निकाला।

इस दौरान राज्य मंत्री रेखा आर्य के आवास में होने के बाद भी एसोसिएशन के प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात न करने पर कर्मचारी आक्रोशित हो उठे।

एसोसिएशन से जुड़े कार्मिकों ने बिंदाल पुल से बड़ी संख्या में कैंडल मार्च निकाला। नारेबाजी करते हुए यमुना कॉलोनी पहुंचे कार्मिकों ने अपनी मांग दोहराई।

हालांकि, रोहन मोटर्स के पास पुलिस ने उन्हें रोक दिया। इसके बाद कर्मचारी वहीं धरने पर बैठक गए और सरकार के खिलाफ नारेबाजी करने लगे।

वहीं, वीपी नौटियाल के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने विभिन्न मंत्रियों से मुलाकात कर उन्हें ज्ञापन सौंपा।

कैंडल मार्च में देहरादून के जिला अध्यक्ष आशुतोष सेमवाल, प्रांतीय अध्यक्ष दीपक जोशी, महासचिव वीरेंद्र सिंह गुसाईं, डीएस सरियाल, ललित मोहन रावत, विमल डबराल, सीएल असवाल, रीता कौल, सुनीता उनियाल बीके धस्माना आदि शामिल रहे।

भारतीय मजदूर संघ (बीएमएस) की बैठक में श्रमिक हितों पर चर्चा की गई। बुधवार को प्रदेश कोषाध्यक्ष सुभाष पुरोहित ने कहा कि तीन जनवरी को सभी सदस्य श्रमिक हितों की मांग को लेकर जिलाधिकारी कार्यालय पर प्रदर्शन करेंगे।

साथ ही मुख्यमंत्री व प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजा जाएगा। बैंक में जिलाध्यक्ष आदर्श सकलानी, मंत्री पंकज शर्मा, उज्ज्वल त्यागी, ललितेश विश्वकर्मा आदि उपस्थित रहे।

विशेष