देश/प्रदेश

AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने बुलाई जनसभा

नई दिल्ली, नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में पूरा देश जल रहा है। दिल्ली, तमिलनाडु, कर्नाटक, केरल और उत्तर प्रदेश समेत कई जगहों पर जबरदस्त विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है।

वहीं, AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने संशोधित नागरिकता अधिनियम का विरोध करने के लिए हैदराबाद में एक जनसभा (जलसा) का आह्वान किया है।

हैदराबाद के दारुस्सलाम में ये जनसभा बुलाई गई है। जामिया मिलिया इस्लामिया के छात्राएं लाडेदा सखालून और आयशा रेना भी इस जनसभा में शामिल होंगी।

हालांकि, शुक्रवार को  नागरिकता संशोधन अधिनियम को लेकर असदुद्दीन ओवैसी हैदराबाद में यूनाइटेड मुस्लिम एक्शन कमेटी की बैठक शामिल हुए थे।

इस बैठक का आयोजन ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) की हैदराबाद स्थित हेड ऑफिस में किया गया था।

इस दौरान बैठक में औवैसी ने कहा कि हमें नागरिकता संशोधन अधिनियम का शांति के साथ पुरजोर विरोध करना है। साथ ही पुलिस की अनुमित लेने के बाद प्रदर्शन की बात कही थी।

औवैसी ने ये भी कहा कि लेकिन हम हिंसा की निंदा करते हैं। जो कोई भी हिंसा में शामिल है वह पूरे विरोध का दुश्मन है। उन्होंने कहा कि विरोध प्रदर्शन किया जाना चाहिए लेकिन, शांति बनाए रखने पर यह सफल होगा।

देशभर में शुक्रवार को कई जगहों पर नागरिकता संशोधन बिल को लेकर जमकर विरोध प्रदर्शन किया गया था। उत्तर प्रदेश में कानपुर, गोरखपुर मेरठ, हापुड़ और बुलंदशहर सहित कई जगहों पर जमकर पत्थरबाजी की गई। उत्तर प्रदेश में हिंसा के दौरान कई लोगों की जान भी चली गई।

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर जमु की नमाज अदा करने के लिए शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के कई जिलों में माहौल फिर खराब हो गया था।

हालांकि, पुलिस पहले से ही काफी सतर्क थी बावजूद इसके क दर्जन से अधिक जिले भयंकर हिंसा की चपेट में आ गए। करीब 15 जिलों में हिंसक विरोध प्रदर्शन किया गया। जिन जिलों में उग्र विरोध प्रदर्शन किया गया वहां इंटरनेट सेवा को अगले आदेश तक के लिए रोक दिया गया है।

विशेष