विविध

Adani Group ने धारावी के रीडेवलपमेंट के लिए बोली जीती

एशिया के सबसे बड़े स्लम धारावी (Dharavi) को रीडेवलप करने के लिए अदाणी ग्रुप (Adani Group) ने बोली जीती है. धारावी का रीडेवलपमेंट करीब 2 दशक से प्लानिंग में था लेकिन इस प्रोजेक्ट के सामने कई अड़चनें आई हैं, अब इस प्रोजेक्ट की दिशा में ये पहला कदम है.

अदाणी ग्रुप ने लगाई 5,069 करोड़ की बोली

अदाणी ग्रुप की रियल एस्टेट सब्सिडियरी ने 5,069 करोड़ की बोली लगाई है. धारावी रीडेवलपमेंट प्रोजेक्ट के CEO SVR श्रीनिवास ने ये जानकारी फोन के जरिए BQ Prime को दी है. DLF लिमिटेड ने इस प्रोजेक्ट के लिए 2,025 करोड़ रुपए की बोली लगाई थी तो वहीं नमन ग्रुप ने बोली लगाने के लिए टेक्निकल राउंड क्वालिफाई नहीं किया.

महाराष्ट्र सरकार की मंजूरी का इंतजार

इस प्रोजेक्ट को पूरा करने में करीब 23,000 करोड़ रुपए की लागत आएगी और ग्लोबल टेंडरिंग के जरिए ये देश के सबसे बड़े रीडेवलपमेंट प्रोजेक्ट में से एक होगा. धारावी, मुंबई के बीच 240 हेक्टेयर में फैला एक स्लम एरिया है. इस स्लम में 8 लाख लोग रहते हैं और यहां से करीब 13 हजार छोटे बिजनेस भी चलते हैं.

इस योजना में झुग्गी बस्ती में रहने वालों को घर देने का प्लान पहली बार 1997 में आर्किटेक्ट मुकेश मेहता ने बनाया गया था. इस दिशा में काम होना पहली बार साल 2003-04 में शुरू हुआ जब राज्य सरकार ने धारावी को एक इंटिग्रेटेड टाउनशिप के तौर पर डेवलप करने का प्लान बनाया. राज्य सरकार ने इसके लिए एक्शन प्लान को फरवरी 2004 में मंजूरी दी थी.

महाराष्ट्र की नई एकनाथ शिंदे-देवेन्द्र फडणवीस सरकार ने इसी साल अक्टूबर में नए टेंडर जारी किए. पिछली बार इस प्रोजेक्ट के लिए लगी बोली को उद्धव ठाकरे सरकार ने साल 2019 में रद्द कर दिया था.

Leave a Response