देश/प्रदेश

पर्यावरण मित्र भर्ती में घोटाले का आरोप

खटीमा: उधम सिह नगर जनपद के सीमांत नगर पालिका खटीमा में पर्यावरण मित्रों की भर्ती का मामला एक बार फिर गरमा गया है. नौकरी से निकाले गए पर्यावरण मित्रों ने नियुक्ति करने वाले अधिकारियों, चेयरमैन व कर्मचारी नेताओं पर पैसे लेकर मुक्ति कराने का आरोप लगाया है. साथ ही खटीमा एसडीएम को शिकायती पत्र देकर सभी आरोपियों पर कार्रवाई करने की मांग की है.

बता दें कि खटीमा नगर पालिका के परिसीमन के बाद बढ़े हुए क्षेत्र में सफाई व्यवस्था के लिए नगर पालिका ने मोहल्ला स्वच्छता समिति के माध्यम से 166 पर्यावरण मित्रों की नियुक्ति की थी. मानकों को अनदेखी कर नियुक्तियों में घोटाले का आरोप लगा था.

सितंबर माह में 85 पर्यावरण मित्रों को बिना कारण बताए नौकरी से निकाल दिया गया था. वहीं, अब नौकरी से निकाले गए पर्यावरण मित्रों ने एसडीएम को शिकायती पत्र सौंपा है. जिसमें नगर पालिका खटीमा के कर्मचारी नेताओं व जनप्रतिनिधियों पर पैसे लेकर भर्ती कराने का बात कही है.

पर्यावरण मित्र अनिल ने बताया कि फरवरी माह में नगरपालिका खटीमा में मोहल्ला स्वच्छता समिति के माध्यम से 166 पर्यावरण मित्रों को नगर पालिका में सफाई व्यवस्था हेतु रखा गया था.

इन सभी पर्यावरण मित्रों की नियुक्ति पैसे लेकर की गई थी, लेकिन 6 माह तक सफाई कर्मचारियों से काम कराया गया.

जिसके बाद 85 पर्यावरण मित्रों को नियम विरुद्ध नियुक्ति बताकर बिना नोटिस देकर हटा दिया गया. साथ ही पर्यावरण मित्र को 5 माह का वेतन भी नहीं दिया गया है. तभी से सभी पर्यावरण मित्र आंदोलित है, लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही है.

वहीं, इस मामले खटीमा एसडीएम निर्मला बिष्ट ने कहा है कि उन्होंने इस मामले को स्थानीय पुलिस को सौंप दिया है. साथ ही उन्होंने मामले की जांच कर आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिये हैं.

विशेष