राष्ट्रीय

Ashneer Grover और पत्नी के खिलाफ 88 करोड़ का मुकदमा दर्ज

BharatPe ने अपने पूर्व एमडी और सह-संस्थापक अशनीर ग्रोवर (Ashneer Grover) और उनके परिवार के खिलाफ कथित धोखाधड़ी और पैसों के गबन के लिए आपराधिक मुकदमा दायर किया है। 88.67 करोड़ रुपये के लिए दायर इस मुकदमे में आरोप लगाया गया है ग्रोवर, उनकी पत्नी माधुरी जैन (Madhuri Jain) और परिवार के अन्य सदस्यों ने फर्जी बिल बनाए और साथ ही कंपनी को सर्विस देने के नाम पर फर्जी विक्रेताओं को लिस्ट किया। इसके अलावा, उनके ऊपर भर्ती के लिए कंपनी से अधिक शुल्क लेने का आरोप भी है।

NDTV के अनुसार, BharatPe ने अशनीर ग्रोवर (Ashneer Grover), उनकी पत्नी और परिवार के अन्य सदस्यों के खिलाफ धोखाधड़ी और पैसों के गबन के लिए 88.67 करोड़ का आपराधिक मुकदमा दिल्ली हाई कोर्ट में दायर किया है। कोर्ट ने ग्रोवर परिवार को नोटिस भी जारी कर दिया है और उन्हें दो हफ्तों के भीतर जवाब देने को कहा है। इस केस में अगली सुनवाई 9 जनवरी निर्धारित की गयी है।

रिपोर्ट बताती है कि मुकदमे में ग्रोवर के बहनोई, उसके पिता और उसके भाई सहित परिवार के कुछ अन्य सदस्यों को भी समन जारी किया गया है। यदि ये सभी दोषी पाए जाते हैं, तो इन्हें 10 साल तक की कैद हो सकती है।

मुकदमे की पहली सुनवाई में कथित तौर पर BharatPe के वरिष्ठ अधिवक्ता ने आरोप लगाते हुए कहा कि ग्रोवर, उनकी पत्नी और अन्य रिश्तेदार कंपनी के खिलाफ एक “दुर्भावनापूर्ण और कटु” अभियान चला रहे थे, जिसमें बड़ी संख्या में विदेशी निवेशक हैं।

कंपनी ने ग्रोवर और उनके परिवार के खिलाफ आर्थिक अपराध शाखा (EOW) में आपराधिक विश्वासघात, जालसाजी, दस्तावेज में बदलाव और गबन सहित 17 मामलों में एक आपराधिक शिकायत दर्ज की।

केस में ग्रोवर की पत्नी माधुरी जैन का नाम भी है, जो BharatPe में कंट्रोल हेड के पद पर थीं और इस साल की शुरुआत में फॉरेंसिक ऑडिट में कई अनियमितताओं का खुलासा होने के बाद इन्हें निकाल दिया गया था, जिसके बाद अशनीर ग्रोवर ने मार्च में CEO पद से इस्तीफा दे दिया था।

रिपोर्ट आगे बताती है कि दायर मुकदमे में, BharatPe ने पैसों की हेराफेरी के लिए 83 करोड़ रुपये और ग्रोवर के सार्वजनिक बयानों के कारण प्रतिष्ठा की क्षति के लिए 5 करोड़ रुपये की मांग की है।

Leave a Response