राजनीति

केंद्रीय योजना से जुडेंगे उत्तराखंड के 25 हजार स्ट्रीट वेंडर

देहरादून। प्रदेश सरकार राज्य के 25 हजार स्ट्रीट वेंडर को प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर योजना से जोड़ने की तैयारी कर रही है। इस योजना के तहत सड़क किनारे छोटी-मोटी दुकान लगाने वालों को 10 हजार रुपये का ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। प्रदेश में जिला स्तर पर योजना के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए सभी जिलाधिकारियों को लीड बैंक अधिकारियों के साथ समन्वय कर लोगों को ऋण उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ मंगलवार को भाजपा शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये हुई बैठक में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने यह जानकारी दी। उन्होंने भाजपा अध्यक्ष को बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा आमजनता के हित में संचालित योजनाओं का राज्य में प्रभावी क्रियान्वयन पर जोर दिया जा रहा है। योजनाओं की नियमित समीक्षा की जा रही है।

राज्य में 25 हजार स्ट्रीट वेंडर हैं। सभी को इस योजना से जोड़ने की तैयारी चल रही है। इससे समाज के गरीब तबके में खुशहाली आएगी। मुख्यमंत्री ने बताया कि राज्य में तीन लाख से अधिक प्रवासी वापस लौटे हैं। उनके लिए मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना आरंभ की गई है। 10 हजार युवाओं को मुख्यमंत्री सौर स्वरोजगार योजना के तहत 25 किलोवाट की सौर ऊर्जा योजनाएं आवंटित की जा रही हैं। इससे उन्हें प्रतिमाह 15 हजार रुपये की आय होगी। इसके साथ ही 10 हजार युवाओं को मोटर बाइक दिए जाने की योजना भी शुरू की गई है।

इसमें दो साल का ब्याज राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा। मंडी समितियों में नए प्रविधानों से किसानों को बड़ा फायदा होगा। मंडी से बाहर आपूर्ति में शुल्क में छूट से भी काश्तकारों को फायदा होगा। इससे पहले भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष ने सभी मुख्यमंत्रियों से केंद्र द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि गरीब व्यापारियों के जीवन सुधारने के लिए शुरू की गई केंद्रीय योजनाओं पर प्रभावी पहल की जाए।

विशेष