देश/प्रदेश

16 दिसंबर से 15 जनवरी तक चलेगा मतदाता अभियान

देहरादून: भारत निर्वाचन आयोग विधानसभा निर्वाचक वोटर्स लिस्ट को एक जनवरी 2020 के आधार पर पुनरीक्षण करने जा रहा है. जिसमें प्रदेश के नए मतदाताओं का नाम भी जोड़ा जाएगा.

मुख्य निर्वाचन कार्यालय, उत्तराखंड में 16 दिसंबर से अभियान चलाने जा रहा है. जिसमें निर्वाचक वोटर्स लिस्ट में उन नए वोटरों का नाम शामिल किया जाएगा जो एक जनवरी 2020 को 18 वर्ष की आयु पूरी कर लेंगे. इसे साथ ही निर्वाचकों के एपिक कार्ड की त्रुटियों को भी दूर किया जाएगा.

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा विधानसभा निर्वाचन वोटर्स लिस्ट 2019-20 को 1 जनवरी 2020 के आधार पर पुनरीक्षण करने का कार्य शुरू कर रहा है.

जिसके साथ इस वोटर्स लिस्ट में उन नए नामों को भी जोड़ा जाएगा जो एक जनवरी 2020 को 18 वर्ष की आयु पूरी कर रहे हैं.

प्रदेश में 16 दिसंबर से 15 जनवरी 2020 तक इस वोटर्स लिस्ट में नामों को जोड़ने का काम किया जाएगा. इस दौरान किसी भी तरह की त्रुटि या ऑब्जेक्शन के लिए चार फरवरी 2020 तक का समय निर्धारित किया गया है. इस वोटर्स लिस्ट का अंतिम प्रारूप 7 फरवरी 2020 को जारी होगा.

निर्वाचन आयोग ऐसे मतदाताओं को भी लिस्टेड कर रहा है जिसका नाम लिस्ट में दोहराया गया है. यानी अगर किसी को भी अपना नाम निर्वाचन सूची में जुड़वाना या उसमें कोई करेक्शन करानी हो तो वह अपने क्षेत्र की बीएलओ से संपर्क कर करेक्शन करा सकता है.

बता दें कि वर्तमान समय में प्रदेश भर में 16 दिसंबर 2019 तक कुल 76 लाख 58 हजार 440 वोटर हैं. जिसमें से 40 लाख 444 पुरुष वोटर, 36 लाख 57 हज़ार 791 महिला वोटर और 205 अन्य वोटर शामिल है, साथ ही प्रदेश भर में 11236 मतदेय स्थलों की संख्या है.

विशेष