देश/प्रदेश

15वें वित्त में कटौती किए जाने से भड़के प्रधान

खटीमा : 15वें वित्त में कटौती किए जाने से ग्राम प्रधान भड़क उठे। उन्होंने ब्लॉक परिसर में केंद्र सरकार के विरुद्घ नारेबाजी कर धरना-प्रदर्शन किया। कटौती वापस न लेने पर समूचे प्रदेश में उग्र आंदोलन की चेतावनी दी।

 

विभिन्न गांवों के ग्राम प्रधान सोमवार को ब्लॉक परिसर में एकत्र हुए। जहां उन्होंने केंद्र सरकार के विरुद्घ नारेबाजी कर जमकर हंगामा काटा। उन्होंने धरना देते हुए कहा कि 15वें वित्त आयोग से मिलने वाले ग्राम पंचायतों के बजट को सरकार ने पहले से कम कर दिया है। उनके बजट में कटौती कर क्षेत्र पंचायतों को दे दिया गया जो सरासर गलत है।

इससे गांवों में होने वाले विकास कार्य प्रभावित होंगे। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि जल्द सरकार ने अपना निर्णय वापस न लिया तो वह उग्र आंदोलन को बाध्य होंगे। बाद में प्रधानों ने इस आशय का ज्ञापन भी मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को भेजा।

इस मौके पर प्रधान संघ अध्यक्ष संजीव सिंह राणा, वीरेंद्र रावत, मुन्नी देवी, द्रोपती देवी, कमला मेहरा, पुष्पा देवी, सच्चीबाला, पूनम देवी, नीरज सिंह, पुष्पा देवी, रविंद्र ज्याला, श्याम बाबू, जितेंद्र गौतम, सुनील कुमार, राजीव कुमार, मदन सिंह, महेंद्र चंद, सुखविंदर सिंह, सोनम कौर, मंजू देवी आदि मौजूद थे।

विशेष