देश/प्रदेश

हादसों को दावत दे रही ख्वाकोट को जोड़ने वाली सड़क

पिथौरागढ़: ख्वाकोट क्षेत्र के आधा दर्जन गावों को जोड़ने वाला गोबरसा-ख्वाकोट मोटरमार्ग बदहाल स्थिति में है.

साल 2009 में लोकनिर्माण विभाग ने गोबरसा से थरसिला तक 5 किलोमीटर की कच्ची सड़क बनायी गई थी लेकिन, पिछ्ले एक दशक से इस मार्ग पर हॉटमिक्स का कार्य नहीं हुआ है. साथ ही इस सड़क मार्ग पर भूस्खलन का खतरा भी बना हुआ है.

कनालीछीना विकासखंड़ के ख्वाकोट क्षेत्र के लगभग आधा दर्जन गावों को जोड़ने वाली सड़क वर्तमान में क्षतिग्रस्त हो गई है.

इस घनी आबादी को जोड़ने वाली गोबरसा-ख्वाकोट मोटरमार्ग में पिछ्ले एक दशक से हॉटमिक्स का कार्य न होने के कारण वाहन चालक इस सड़क मार्ग पर आवाजाही से बचते हैं.

वहीं, स्थानीय लोगों का कहना है कि वो पिछले काफी दिनों से सड़क निर्माण की मांग कर रहे हैं लेकिन उनकी कोई सुध नहीं ले रहा.

वहीं, मामले में ग्रामीण विक्रम सिंह ने बताया कि सड़क होने के बावजूद लगभग आधा दर्जन गावों के लोगों को लगभग 1 किलोमीटर का सफर पैदल चलकर तय करना पड़ता है. सबसे ज्यादा दिक्कत गर्भवती महिलाओं, मरीजों और बुजुर्गों को रही है. जिन्हें कंधों में लादकर इस सड़क मार्ग से अस्पताल तक ले जाया जाता है. ऐसे में कभी कभार मरीज रास्ते में ही दम तोड़ देते हैं.

विशेष