देश/प्रदेश

: सिर्फ दिल्‍ली नहीं, भारत माता की जीत है

नई दिल्‍ली: दिल्‍ली विधानसभा में मतगणना के बाद फिर आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार और अरविंद केजरीवाल का मुख्‍यमंत्री बनना तय है। आप 70 में से 63 सीटों पर बढ़त बनाई है। वहीं भाजपा को सिर्फ 7 सीटें पर बढ़त बनाई है।  आप के संयोजक और दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित किया।

दिल्‍ली में जीत के बाद अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्‍ली ने तीसरी बार बेटे पर भरोसा किया। नई राजनीति देश के लिए शुभ संकेत है। दिल्‍ली ने नई राजनीति को जन्‍म दिया है। ये मेरी नहीं दिल्‍ली वालों की जीत है। सिर्फ दिल्‍ली नहीं, भारत माता की जीत है। हनुमान जी ने आज दिल्‍ली पर कृपा बरसाई है।  आज ये साफ है, वोट उसको जो काम करेगा। अगले 5 साल दिल्‍ली में मिलकर काम करेंगे।

 

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ‘आज मंगलवार है और हनुमान जी का दिन है। हनुमान जी ने दिल्ली पर कृपा बरसाई है। मैं इसके लिए हनुमान जी को भी धन्यवाद देता हूं। आज मेरी पत्‍नी का जन्‍मदिन है। हम प्रार्थना करते हैं कि हनुमान जी हमें सही रास्ता दिखाते रहें ताकि हम अगले पांच वर्षों तक लोगों की सेवा करते रहें। ‘ जीत के बाद परिवार के साथ अरविंद केजरीवाल हनुमान मंदिर जा रहे हैं।

मतगणना में आप के सभी बड़े चेहरे चुनाव जीत गए हैं या चुनाव जीतने के करीब हैं। इनमें नई दिल्‍ली से अरविंद केजरीवाल, पटपड़गंज से मनीष सिसोदिया, शकूरबस्‍ती से सत्‍येंद्र जैन, नजफगढ़ से कैलाश गहलोत, कालकाजी से आतिशी, राजेंद्र नगर से राघव चड्ढा, सीमापुरी से राजेंद्र गौतम, बाबरपुर से गोपाल राय, तिमारपुर से दिलीप पांडेय, बल्‍लीमारान से इमरान हुसैन, ओखला से अमानतुल्‍ला खान और शाहदरा से रामनिवास गोयल शामिल हैं। सिर्फ करावल नगर से दुर्गेश पाठक  चुनाव हार गए।

 

गोपाल राय ने कहा कि नफरत की राजनीति का अंत की शुरुआत हुई है। दिल्‍ली से इसकी शुरुआत हो गई है। ये जीत सिर्फ दिल्‍ली तक नहीं सिमटेगी।

 

पटपड़गंज के विधायक मनीष सिसोदिया ने चुनाव जीतने के बाद कहा कि मैं पटपड़गंज विधानसभा का फर विधायक बनने पर खुश हूं। भाजपा ने नफरत की राजनीति करने की कोशश की लेकिन लेकिन दिल्‍ली के लोगों ने काम करने वाली सरकार को चुना है।

विशेष