देश/प्रदेश

सात वर्षो से फाइलों में ही कैद पत्थरखानी-घ्वीरा सड़क

पिथौरागढ़: पत्थरखानी से घ्वीरा तक प्रस्तावित सड़क का निर्माण कराए जाने की मांग को लेकर ग्रामीणों ने मंगलवार को जिला मुख्यालय पहुंचकर जोरदार प्रदर्शन किया। ग्रामीणों ने शीघ्र सड़क का निर्माण नहीं कराए जाने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है।

वर्ष 2013 में पत्थरखानी सेलकटिया, डुबूल्या, विजरकाणा, घ्वीरा सड़क निर्माण प्रस्तावित की गई थी, लेकिन आज तक सड़क धरातल पर नहीं उतर पाई है। खिन्न ग्रामीणों ने मंगलवार को मुख्यालय पहुंचकर कलक्ट्रेट के समक्ष प्रदर्शन किया।

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि दर्जनों गांवों को जोड़ने वाली इस सड़क से तीन हजार तक की आबादी को लाभ मिलना है। सड़क नहीं होने से क्षेत्र की जनता को खासी परेशानी उठानी पड़ रही है। मजबूर ग्रामीण पलायन कर रहे हैं, जिससे गांवों की जनसंख्या लगातार कम होती जा रही है।

विभाग से कई बार निर्माण शुरू कराए जाने की मांग की जा चुकी है, लेकिन विभाग कोई पहल नहीं कर रहा है। ग्रामीणों ने शीघ्र सड़क का निर्माण नहीं कराए जाने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है।

प्रदर्शन करने वालों में कौस्तुभ जोशी, शेर सिंह बेलाल, मथुरा दत्त जोशी, दिनेश जोशी, शेर सिंह, दानीराम, कौस्तुभ जोशी, पुष्कर राम, सुनील, माधव राम, देवराज, पुष्कर राम, नीरज, हरीश आदि शामिल थे।

प्रदर्शन के बाद ग्रामीणों ने जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपकर अविलंब सड़क का निर्माण कराए जाने की मांग की। जिलाधिकारी ने ग्रामीणों की मांग पर उचित कार्रवाई का भरोसा दिलाया। इधर लोनिवि का कहना है कि सड़क प्रस्तावित है। बजट मिलते ही सड़क का निर्माण शुरू कर दिया जाएगा।

विशेष