देश/प्रदेश

वनभूलपुरा में स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ाने को उठाई आवाज

नैनीताल: हल्द्वानी के मुस्लिम बाहुल्य बनभूलपुरा में लचर स्वास्थ्य सेवाओं को दुरुस्त करने की मांग को लेकर क्षेत्रवासी लामबंद हो गए हैं। उन्होंने सीएमओ से मुलाकात कर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को अपग्रेड करने की मांग की। साथ ही 72 घंटे में कार्य शुरू न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी।

बुधवार को वनभूलपुरा संघर्ष समिति के संयोजक उवैस राजा के नेतृत्व में क्षेत्रवासी सीएमओ कार्यालय पहुंचे। उन्होंने कहा क्षेत्रवासी मात्र एक डिस्पेंसरी के भरोसे जीने को मजबूर है।

वहां भी लोगों को पर्याप्त दवा नही मिल पाती। पूर्व में प्राथमिक केंद्र को अर्बन हेल्थ सेंटर के रूप में विकसित करने की मंजूरी शासन की ओर से दे दी गई। शासन द्वारा 30 लाख का बजट स्वीकृत किया जा चुका है।

यहां तक कि डेढ़ लाख अवमुक्त भी कर दिया गया था। इसके बावजूद विभाग द्वारा सेंटर को विकसित करने का कार्य लटका है। स्वास्थ्य सुविधाओं के अभाव के चलते लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

इस दौरान आरिश अली, मोहम्मद शोएब, बिलाल खान, शाहरूख मंसूरी आदि मौजूद रहे।

सीएमओ डॉ भारती राणा ने बताया कि शासन के निर्देशों के क्रम में जिले के कई प्राथमिक केंद्रों को अर्बन हेल्थ सेंटर के रूप में विकसित किया जाना था।

चार केंद्रों को बॉम्बे अस्पताल के अधीन जबकि वनभूलपुरा केंद्र को सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज की ओर से उच्चीकृत किया जाना था।

लेकिन एसटीएच की ओर से उच्चीकरण में असमर्थता जताते हुए केंद्र को पत्र भेजा। अन्य संसाधनों से केंद्र को विकसित करने की प्रक्रिया लगभग अंतिम चरण में है। जल्द ही कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

विशेष