देश/प्रदेश

बोर्ड परीक्षाओं को नकल विहीन संपन्न कराएं अधिकारी

चम्पावत : हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षाओं की तैयारियों और परीक्षा केंद्रों की व्यवस्थाओं को लेकर गुरुवार को डीएम एसएन पांडे की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया।

बैठक में परीक्षाओं को नकल विहीन और शांतिपूर्ण संपन्न करने को लेकर कई निर्णय लिए गए। इस बार परीक्षाएं एक मार्च से 25 मार्च तक आयोजित की जाएंगी।

मुख्य शिक्षा अधिकारी आरसी पुरोहित ने बताया कि इस वर्ष हाईस्कूल परीक्षा में संस्थागत बालकों की संख्या 2255 और बालिकाओं की 2370 है जबकि व्यक्तिगत बालकों की संख्या 10 और बालिकाओं की संख्या 13 है।

इसी प्रकार इंटर की परीक्षा में संस्थागत बालकों की संख्या 1721, बालिकाओं की 1722 जबकि व्यक्तिगत बालकों और बालिकाओं की संख्या 24-24 है। बताया कि जिले में हाईस्कूल एवं इंटर की परीक्षा देने वाले बालक एवं बालिकाओं की कुल संख्या 8139 है।

इस वर्ष विकासखंड पाटी के जीआइसी भिंगराड़ा, जीआइसी चौड़ामेहता, जीआइसी रीठाखाल, जीआइसी गरसाड़ी, जीआइसी चौड़ाकोट, जीआइसी पनिया, विकासखण्ड बाराकोट में जीआइसी बर्दाखान. जीआइसी रेगड़ू, पं. दीन दयाल इंटर कॉलेज इंद्रपुरी, विकासखण्ड चम्पावत में जीआइसी मंच, जीआइसी अमोड़ी, जीआइसी तामली, विकासखंड लोहाघाट में जीआइसी मडलक संवेदनशील परीक्षा केंद्र संवदेनशील की श्रेणी में हैं।

जिलाधिकारी ने पब्लिक स्कूलों में नामाकन बढ़ने एवं राजकीय विद्यालयों में नामाकन घटने पर चिंता जताई और समस्या के समाधान के लिए अपने सुझाव उपलब्ध कराने के निर्देश शिक्षा विभाग के अधिकारियों को दिए।

उन्होंने मुख्य शिक्षाधिकारी को सभी संवेदनशील परीक्षाकेंद्रों की सड़क से दूरी तथा केंद्रों की स्थिति से पुलिस अधीक्षक लोकेश्वर सिंह को अवगत कराने के निर्देश दिए। इस मौके पर जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक डीएस राजपूत, बेसिक सत्यनारायण, खंड शिक्षाधिकारी समेत विभिन्न स्कूलों को प्रधानाचार्य और अध्यापक मौजूद थे।

विशेष