देहरादून

पुलिस ने दो चोरियों का किया पर्दाफाश

देहरादून, पटेलनगर पुलिस ने दो शातिर चोरों को गिरफ्तार करते हुए दो चोरियों का पर्दाफाश कर दिया। चोरी की एक वारदात पटेलनगर के कारगी चौक स्थित शिवालिक एनक्लेव में बीते सोमवार को हुई थी, जबकि दूसरी वारदात नेहरू कॉलोनी के धर्मपुर इलाके में परचून की दुकान में बीती 22 जनवरी को हुई थी।

दोनों पिछले कई महीने से चंद्रबनी और बंजारावाला में किराये पर कमरा लेकर रह रहे थे। एक आरोपित मूलरूप से अलीगढ़ का रहने वाला है, जिसके आपराधिक इतिहास की जानकारी के लिए उत्तर प्रदेश पुलिस से संपर्क किया जा रहा है।

सीओ सदर अनुज कुमार ने बताया कि कारगी चौक के पास स्थित शिवालिक एनक्लेव में रहने वाली रितिका पठानिया परिवार के साथ रिश्तेदार के यहां गई थीं।

शाम के वक्त चोरों ने उनके घर का ताला तोड़कर दो कीमती घड़ी, एक हेडफोन और गुल्लक व अन्य कई सामानों पर हाथ साफ कर दिया था। घटना की जानकारी होने पर मामले में मुकदमा दर्ज करते हुए इलाके के सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए।

फुटेज में दिख रहे दो संदिग्धों की तलाश की गई तो दोनों को ब्राह्मणवाला चौक से गिरफ्तार कर लिया गया। एक की पहचान दीपेंद्र सिंह निवासी सलेमपुर इग्लास, अलीगढ़ के रूप में हुई, वह यहां चंद्रबनी में किराये पर रहता था।

वहीं दूसरे आरोपित की पहचान योगेश नेगी के रूप में हुई, वह बंजारावाला का मूल निवासी है। दोनों के पास से दो घड़ी, एक हेडफोन व 2450 रुपये बरामद कर लिए गए हैं।

पूछताछ में दोनों ने स्वीकार किया कि बीती 22 जनवरी को धर्मपुर के पास परचून की दुकान में साठ हजार रुपये नकद की भी चोरी की थी।जेल से बाहर आया चोर फिर गिरफ्तार

तीन महीने पहले ही जेल से छूट कर आए शातिर चोर को राजपुर पुलिस ने मंगलवार देर रात कैनाल रोड से गिरफ्तार कर लिया। आरोपित की पहचान माइकल निवासी कंडोली राजपुर के रूप में हुई है।

एसओ अशोक राठौर ने बताया कि पूर्व में माइकल फास्ट फूड की ठेली लगाता था। नशे की लत लगने के कारण धंधा बंद हो गया तो वह चोरी करने लगा।

तीन माह पहले ही वह जेल से छूट कर आया था और रात फिर से चोरी के प्रयास में घूम रहा था। उसके पास से खुखरी भी बरामद की गई है।