देश/प्रदेश

निर्माण कार्य की गुणवत्ता पर दें विशेष ध्यान

?????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????

बागेश्वर: अनाशक्ति आश्रम कौसानी और सुमित्रानंदन पंत संग्रहालय में हो रहे नवीनीकरण कार्य का जिलाधिकारी ने स्थलीय निरीक्षण किया और कार्यों का जायजा लिया। उन्होंने जीर्णोद्धार कार्य में गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए।

डीएम रंजना राजगुरु ने कार्यदायी संस्था ब्रिडकुल के परियोजना प्रबंधक गंभीर सिंह ने अनाशक्ति आश्रम और पंडित सुमित्रानंदन पंत संग्रहालय में जो भी कार्य किए जाने हैं उनकी गुणवत्ता के साथ ही समय पर काम पूरा करने को कहा। उन्होंने कहा कि यह स्थान महापुरुषों की धरोहर है। जिसमें उनकी स्मृतियां एवं यादें जुड़ी हैं।

जिनको देखने के लिए देश ही नहीं विदेश से भी पर्यटक आते हैं। इसके अलावा उच्चाधिकारियों की नजर में भी यह स्थान परहता है। पर्यटन के क्षेत्र में कौसानी का अपना नाम है। उन्होंने निर्माण कार्य त्वरित गति से करने के निर्देश दिए।

उन्होंने आश्रम मैदान में जो भी पत्थर बिछाने का कार्य किया जा रहा है उसकी गुणवत्ता और चारों ओर बैठने के लिए बेहतर बैंच लगाने, आश्रम का बरसाती पानी रेन वाटर हारवेस्टिग टैंक में पहुंचाने के लिए नाली का निर्माण करने के निर्देश दिए।

मैदान के चारों ओर फूलों के पौधों का रोपण करने के भी निर्देश दिए। कहा कि विद्युतीकरण कार्य, म्यूजियम, लाइब्रेरी, वीआइपी गेस्ट हाउस, किचन, आश्रम के बाहर रेलिग लगाने को कहा। परियोजना प्रबंधक ने बताया कि अनाशक्ति आश्रम के नवीनीकरण के लिए 255 लाख की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति प्राप्त है।

जिसके सापेक्ष एक करोड़ 27 लाख 50 हजार रुपये की धनराशि अवमुक्त हो गई है। मुख्य भवन के बाह्य कोरिडोर निर्माण के लिए नींख खोदी गई है। प्लिथ बीम की कास्टिग और पत्थराो के कालम का निर्माण कार्य पूरा हो गया है।

मुख्य भवन की छत सही कर जीआरइ शीट बदले जाने का कार्य भी कर लिया गया है। पुस्तकालय में प्लास्टर का कार्य पूरा कर, वाल पैनलिग कार्य प्रगति पर है। कोरिडोर की फ्लोरिग कार्य पूरा हो गया है। लकड़ी की आर्च का कार्य प्रगति पर है। विद्युतीकरण कार्य प्रगति पर है। विश्राम गृह में पुराने शौचालयों और बरामदे का काम चल रहा है।

सुमित्रानंद पंत संग्रहालय के लिए 45.46 लाख की धनराशि शासन से स्वीकृत हुई है। सापेक्ष 20.88 लाख की धनराशि अवमुक्त हो गई है। इस मौके पर डीडीओ केएन तिवारी, एसडीएम जयवर्धन शर्मा, अभियंता रोहित नारियाल, पंकज मेहता आदि मौजूद थे।

विशेष