देश/प्रदेश

दूरस्थ खाती गांव के विकास को बनी रणनीति

बागेश्वर : कपकोट ब्लॉक के खाती गांव की मूलभूत समस्याओं को लेकर जागरण ने प्रमुखता से खबर प्रकाशित की थी। जिलाधिकारी रंजना राजगुरु ने इसका संज्ञान लेते हुए उच्च स्तरीय बैठक बुला जल्द समस्याओं के समाधान के निर्देश दिए। लापरवाही बरतने वाले विभागों को कड़ी फटकार भी लगाई।

जिलाधिकारी रंजना राजगुरु ने जिले के दूरस्थ क्षेत्र खाती गांव की समस्या के समाधान हेतु उच्च स्तरीय बैठक ली। इस दौरान डीएम ने कहा कि जिला प्रशासन इस बात के लिए सदैव तत्पर है कि जनपद के दूरस्थ क्षेत्रों में भी अनिवार्य रूप से बिजली, सड़क, पानी एवं संचार जैसी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध हों।

जिलाधिकारी ने खाती गांव में विद्युतीकरण न होने पर गहरी नाराजगी व्यक्त कर अधिशासी अभियंता विद्युत को कड़े निर्देश जारी किए। उन्होंने कहा कि वहां दीन दयाल उपाध्याय योजना के तहत विद्युतीकरण को एक माह के अंदर पूर्ण किया जाए।

इसमें किसी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए। जिलाधिकारी ने जेटीओ को निर्देशित करते हुए कहा कि खाती गांव में सुदृढ़ संचार व्यवस्था हेतु मजबूत रणनीति के तहत कार्य करते हुए जल्द से जल्द ऐसे विकल्पों का चयन किया जाए।

पर्यटन विभाग को खाती क्षेत्र में पर्यटन की गतिविधियों को बढ़ावा देने हेतु विशेष कैंप लगाकर होम स्टे, वीर चंद्र गढ़वाली जैसी योजनाओं के बारे में प्रचार-प्रसार करने को कहा।

क्षेत्र के ट्रैकिग रूट न केवल अच्छे हों, उनका नियमित रूप से रखरखाव भी किया जाए। इस अवसर पर सीडीओ डीडी पंत, एसडीएम प्रमोद कुमार, ईई लोनिवि संजय पांडे, भाष्करानंद पांडे, अनिल कुमार, जेटीओ हेमंत जोशी आदि मौजूद थे।

विशेष