देश/प्रदेश

डीएम के आदेश पर भी खनन जारी

बागेश्वर : जिलाधिकारी के ढप्टी गांव में खड़िया खनन रोके जाने के डीएम के आदेश के बाद भी मनमानी जारी है। इससे आक्रोशित ग्रामीणों ने जिलाधिकारी कार्यालय पर प्रदर्शन किया। ग्रामीणों ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर इसे तत्काल नहीं रोका गया तो वे तहसील कार्यालय पर अनशन करेंगे।

कांडा तहसील स्थित ढप्टी गांव के ग्रामीणों ने जिलाधिकारी कार्यालय पर आक्रोश व्यक्त किया। ग्रामीणों के मुताबिक कुछ समय पहले उन्होंने जिलाधिकारी को अवैध तरीके से हो रहे खड़िया खनन के बारे में बताया था।

इसके बाद संज्ञान लेते हुए डीएम ने तत्काल खनन को रोकने के निर्देश दिए थे। इसके बावजूद क्षेत्र में अवैध खडि़या खनन जारी है। इससे गांव के अस्तित्व को खतरा हो गया है। उनके आवासीय मकानों पर दरारें आ रही हैं।

खड़िया खनन से सिचाई नहर भी बंद हो गई है। जबकि खेतीबाड़ी ही ग्रामीणों की आíथकी का प्रमुख साधन है। ग्रामीणों ने कहा कि खनन पट्टा लेने के लिए फर्जी तरीके से एनओसी में हस्ताक्षर किए गए हैं।

उन्होंने इसकी भी जांच कर दोषियों को सजा देने की मांग की। इस अवसर पर खड़क सिंह, महिपाल सिंह, बलवंत सिंह, गोकुल सिंह, प्रकाश सिंह, किशन सिंह, लीला देवी, ललिता देवी, पुष्पा, हेमा, उमा, भागीरथी सहित कई ग्रामीण मौजूद थे।

विशेष