देश/प्रदेश

जंगल में छात्रा पर हाथी का हमला

DJLSF?F³F?FS ?FZÔ WXF±Fe IZY WX?F»FZ ?FZÔ ¶FF»F-¶FF»F ¶F?Fe LFÂFF

रामनगर : सीटीआर के अंतर्गत ढेला गाव के जंगल में मंगलवार रात लकड़ी बीनने गई छात्रा पर हाथी ने हमला कर दिया। ऐन मौके पर महिलाओं ने हिम्मत दिखाते हुए छात्रा को बचा लिया।

इसके बाद हाथी ने गांव में घुसकर एक ग्रामीण पर भी हमले का प्रयास किया। उसने भी भागकर अपनी जान बचाई।

ढेला गाव निवासी किरन बिष्ट नौवीं की छात्रा है। मंगलवार शाम मा कमला देवी व गाव की अन्य महिलाओं के साथ जंगल में लकड़ी लेने गई थी। इस दौरान हाथी चिंघाड़ते हुए किरन की ओर दौड़ा।

खतरा भांप किरन भागी तो हाथी ने सूंड़ से उसे गिरा दिया। इस बीच महिलाओं ने शोर मचाते हुए किरन को उठाकर अपनी ओर खींच लिया।

ऐन मौके पर महिलाओं की हिम्मत से किरन की जान बच गई। किरन समेत महिलाओं ने गांव की ओर दौड़ लगा दी। इस घटना में किरन की आंख के पास हल्की चोट आई है।

इधर, रात में भी हाथी ढेला गाव में आ गया। फसल की रखवाली कर रहे एक ग्रामीण पर हमले का प्रयास किया। उसने किसी तरह भागकर जान बचाई।

शिक्षक नवेंदु मठपाल समेत ग्रामीणों ने वन विभाग से हाथियों की गांव की ओर आवाजाही रोकने की माग की है। उन्होंने कहा कि गाव में दिन-रात हाथी के हमले का भय बना रहता है। हाथियों के झुंड आबादी में घुसकर फसलों को नष्ट कर रहे हैं।

कई बार लोगों पर हमला कर देते हैं। दिन में तो हाथियों को भगाने के लिए गांव वाले एकत्र होकर शोर मचाने के साथ अन्य उपाय कर लेते हैं मगर रात में हाथियों के आसपास जाना तक खतरे से खाली नहीं। ऐसे गाव व जंगल के बीच सुरक्षा दीवार बनाई जाए।

विशेष