देश/प्रदेश

गैरसैंण में सत्र अवधि बढ़ाने को स्पीकर से मिले माहरा

देहरादून: गैरसैंण में आगामी तीन मार्च से प्रस्तावित बजट सत्र को छोटा रखने पर विधानसभा में उप नेता प्रतिपक्ष करन माहरा ने आपत्ति जताई है। सोमवार को करन माहरा ने विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल से मुलाकात कर उन्हें ज्ञापन भी सौंपा। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि वह इस संबंध में मुख्यमंत्री से वार्ता करेंगे।

 

सरकार विधानसभा का सत्र आगामी तीन मार्च से गैरसैंण में आहूत कर रही है। कैबिनेट फैसले के बाद उक्त संबंध में आदेश भी जारी किए गए हैं। बजट सत्र की अवधि तीन मार्च से छह मार्च यानी चार दिन ही प्रस्तावित की गई है।

गैरसैंण में छोटे रखे जा रहे विधानसभा सत्र पर कांग्रेस विधानमंडल दल के उप नेता करन माहरा ने तीखी आपत्ति की। विधानसभा अध्यक्ष के साथ मुलाकात में उन्होंने कहा कि गैरसैंण जनभावनाओं से जुड़ा है। राज्य आंदोलनकारी लगातार गैरसैंण के मुद्दे पर आंदोलनरत हैं।

उन्होंने कहा कि गैरसैंण में विधानसभा सत्र के नाम पर औपचारिकता नहीं की जानी चाहिए। उन्होंने सत्र की अवधि बढ़ाने पर जोर दिया।

विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने कहा कि विधानसभा सत्र कहां और कितनी अवधि का कराना है, यह फैसला राज्य सरकार करती है। उन्होंने भरोसा दिलाया कि सत्र की अवधि बढ़ाने के संबंध में वह मुख्यमंत्री के साथ वार्ता करेंगे।

धरना स्थल हटाने के खिलाफ सीएम से मिलेंगे विपक्षी नेता

परेड मैदान से धरना स्थल हटाए जाने की कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दलों ने मुखालफत की। सोमवार को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह की मौजूदगी में विभिन्न राजनीतिक दलों की बैठक हुई।

बैठक में भाकपा नेता समर भंडारी, माकपा नेता सुरेंद्र सिंह सजवाण, सपा नेता डॉ एसएन सचान समेत कई दलों के नेता मौजूद रहे। बैठक में तय किया गया कि परेड मैदान से धरना स्थल हटाने के विरोध में विपक्षी दलों के नेताओं का प्रतिनिधिमंडल मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से मुलाकात करेगा।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि विपक्षी दलों की आवाज स्वस्थ लोकतंत्र के लिए बेहद आवश्यक है। धरना स्थल को शहर से हटाकर इसे दबाया नहीं जाना चाहिए।

विशेष