देश/प्रदेश

गुप्तकाशी-कालीमठ और चौमासी मोटर मार्ग बदहाल

रुद्रप्रयाग: कालीमठ घाटी को जोड़ने वाला गुप्तकाशी-कालीमठ मोटरमार्ग पर केदारनाथ आपदा के बाद से जीर्ण शीर्ण बना हुआ है। इसके अलावा निर्माणाधीन जग्गी बगवान मोटरमार्ग भी लोगों के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है।

कालीमठ क्षेत्र के कालीमठ, कोटमा, जाल तल्ला-मल्ला, चिलौंड़, चौमासी सहित करीब 10 ग्राम पंचायतों के ग्रामीण मुश्किलों का सामना कर रहे हैं। गुप्तकाशी-कालीमठ-चौमासी मोटर मार्ग जहां केदारनाथ आपदा के बाद से अब तक सुधर नहीं सका है।

हल्की बारिश होने से यहां ग्रामीणों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। बरसात के चलते यहां कीचड़ से वाहनों के रपटने का खतरा बना है।

कालीमठ के पास भूस्खलन जोन की अभी भी अच्छी तरह मरम्मत नहीं हो सकी है। जबकि भैरवनाथ मंदिर के पास दो वर्ष से निर्माणाधीन जग्गी-बगवान-बेडूला मार्ग के मलबे से दिक्कतें पैदा हो रही है। गुप्तकाशी-कालीमठ मार्ग पर धंसाव भी हो रहा है जिससे दुर्घटना का खतरा बना हुआ है।

ग्राम प्रधान मुलायम सिंह तिदोरी, पूर्व प्रधान मोहन सिंह राणा, ओमप्रकाश भट्ट, संदीप भट्ट, मनवर सिंह चौहान आदि ने कहा कि आपदा के बाद से यह मार्ग काफी क्षतिग्रस्त है तब से इसके सुधारीकरण के लिए बेहतर कार्य नहीं हुए हैं जबकि सुधारीकरण के नाम पर मोटर बजट खर्च हुआ है।

कोटमा से चौमासी तक भी कई जगहों पर तो छोटे वाहन भी नहीं चढ़ पा रहे हैं। ग्रामीणों ने लोक निर्माण विभाग से मार्ग का चौड़ीकरण, भूस्खलन और भू-धंसाव जोन का ट्रीटमेंट करते हुए हॉटमिक्स करने की मांग की है।

विशेष