देश/प्रदेश

केजरीवाल के घर नवनिर्वाचित AAP विधायकों की बैठक

नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में भी एतिहासिक जीत हासिल करने वाली आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल के आवास पर बैठक होनी है। इसके लिए नवनिर्वाचित विधायकों का आना जारी है।

 

अरविंद केजरीवाल उपराज्यपाल अनिल बैजल से मिलकर अपने आवास के लिए रवाना हो चुके हैं। यहां पर 16 फरवरी को होने वाले शपथ ग्रहण समारोह को लेकर चर्चा की संभावना है।

समाचार एजेंसी एएनआइ के मुताबिक, आगामी 16 फरवरी को दिल्ली के रामलीला मैदान में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे।

इसी के साथ आम आदमी पार्टी के सभी नवनिर्वाचित 62 विधायकों की बैठक भी अरविंद केजरीवाल के आवास बुलाई गई है। जिसमें विधायक दल का नेता चुने जाने की प्रक्रिया पूरी की जाएगी।

दिल्ली की जनता ने एक बार फिर अरविंद केजरीवाल पर विश्वास जताया है। केजरीवाल सरकार के पांच साल में किए गए विकास कार्यों का जादू इस कदर चला कि आम आदमी पार्टी (आप) ने दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों के लिए हुए चुनाव में 62 सीटें जीतकर जबर्दस्त सफलता का इतिहास दोहरा दिया है।

इस चुनाव में कांग्रेस इस बार भी खाता नहीं खोल सकी।

भाजपा को वोट प्रतिशत में बढ़ोतरी के साथ पांच सीटों का भी फायदा हुआ। उसे आठ सीटें मिली हैं।

दिल्ली के लोगों ने केजरीवाल के बिजली, पानी, शिक्षा व स्वास्थ्य के क्षेत्र में किए गए कामों और महिलाओं को मुफ्त बस यात्र के फैसले को भरपूर समर्थन दिया है। यही वजह है कि आप अपना जनाधार बरकरार रखने में कामयाब रही।

लगातार दूसरी बार 60 से ज्यादा सीटें

 

विधानसभा चुनाव 2015 में आप ने 70 में से 67 सीटें जीतकर इतिहास रचा था। AAP लगातार दूसरी बार दिल्ली में 60 से अधिक सीटें जीतकर सत्ता में आई है। दिल्ली में कांग्रेस के नेतृत्व में शीला दीक्षित की तीन बार सरकार रही थी, लेकिन कभी 60 का आंकड़ा पार नहीं कर पाई थी।

 

तीन लोस क्षेत्र में AAP का क्लीन स्वीप

 

इस चुनाव में आप ने सात लोकसभा क्षेत्र में से तीन पश्चिमी दिल्ली, नई दिल्ली, चांदनी चौक की सभी 30 विधानसभा सीटें जीत ली हैं। पार्टी के सभी दिग्गज जीतने में सफल रहे हैं। इनमें केजरीवाल, गोपाल राय, सत्येंद्र जैन, इमरान हुसैन, कैलाश गहलोत, राजेंद्र पाल गौतम, विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल, उपाध्यक्ष राखी बिड़ला व सौरभ भारद्वाज शामिल हैं।

भाजपा सांसद गौतम गंभीर के लोकसभा क्षेत्र पूर्वी दिल्ली व मनोज तिवारी के लोकसभा क्षेत्र उत्तर-पूर्व दिल्ली से पार्टी को तीन-तीन विधायक मिले। वहीं, दक्षिण दिल्ली, उत्तर पश्चिम लोकसभा सीट से एक-एक विधायक जीते हैं।

विशेष