राष्ट्रीय

उत्तराखंड के चारों धामों में बर्फबारी

देहरादून,  उत्तराखंड में मौसम फिर करवट ले रहा है। समूचे उत्तराखंड में बादलों का डेरा है। वहीं, बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री की पहाड़ियों में सुबह हिमपात हुआ। मौसम विभाग के मुताबिक पहाड़ से मैदान तक हल्की बारिश की संभावना है। इससे तापमान में गिरावट आएगी।

गुरुवार की सुबह से गढ़वाल और कुमाऊं मंडल के जिलों में बादलों का डेरा है। कई स्थानों पर तो सड़कों पर अंधेरा होने के कारण वाहनों की हेड लाइट भी जली दिखीं। उत्तरकाशी जनपद के गंगोत्री और यमुनोत्री के आसपास की पहाड़ियों में सुबह हिमपात भी हुआ। वहीं, दोपहर तक बदरीनाथ व केदारनाथ में भी बर्फबारी होने लगी।

हरिद्वार, दून सहित मैदानी इलाकों में कई स्थानों पर हल्की बूंदाबांदी भी हुई। मौसम विभाग के मुताबिक पहाड़ों से लेकर मैदान तक हल्की बारिश की संभावना है। वहीं, ऊंचाई वाले पर्वतीय क्षेत्रों में हिमपात का दौर जारी रहेगा। 3500 मीटर से अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्रों में अधिक बर्फबारी होने की संभावना है।

राज्य में बीते 29 सितंबर से राज्य में बारिश नहीं हुई है। इस बीच केवल नैनीताल व चमोली जिले में एक से दो मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। करीब 39 दिनों से बारिश न होने से खेतों में नमी कम होती जा रही है और हवा में धूल के कण अधिक ऊंचाई तक पहुंच रहे हैं।

मौसम विज्ञान केंद्र का कहना है कि बारिश नहीं होने से दिन और रात के तापमान में अपेक्षाकृत अधिक अंतर देखा जा रहा है, जो फसलों की बढ़वार के लिए लाभकारी नहीं माना जाता है। बुधवार को दून का अधिकतम तापमान सामान्य से दो डिग्री अधिक 29.2 डिग्री सेल्सियस जबकि न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक 13.6 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।

मौसम विज्ञान केंद्र देहरादून के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि राज्य के अधिकतर इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश होगी। दून के कुछ क्षेत्र में बादलों की गर्जन के साथ बारिश हो सकती है। पर्वतीय इलाकों में बर्फबारी होने की संभावना है।

विशेष