देश/प्रदेश

इंदिरा हृदयेश की कार्यकर्ताओं को नसीहत

हल्द्वानी: नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने कांग्रेस के सभी कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों को नसीहत देते हुए कहा है कि वे अब बड़े नेताओं की चापलूसी करना छोड़ दें.

उन्होंने कहा कि कोई भी कार्यकर्ता या नेता सोशल मीडिया पर चापलूसी कर बड़े नेताओं का खास बनने की कोशिश करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. साथ ही पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा.

गौर हो कि पिथौरागढ़ उपचुनाव में स्टार प्रचारक के नाम पर पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के नाम को लेकर सोशल मीडिया पर कुछ कार्यकर्ताओं द्वारा गलत बयानबाजी की गई थी. जिसके बाद नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने सख्त रवैया अपनाया है.

नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने कहा कि कोई भी कार्यकर्ता या नेता बड़े नेताओं की चापलूसी कर उसका सगा बनने की कोशिश करेगा तो उसके खिलाफ नोटिस जारी किया जाएगा. साथ ही उसके भाषण और अखबारों में बयान देने पर भी रोक लगाई जाएगी. नेता प्रतिपक्ष ने कहा है कि कांग्रेस को डूबने से बचाने के लिए सभी कार्यकर्ताओं और नेताओं को एकजुट होने की जरूरत है.

क्योंकि 2022 का विधानसभा चुनाव नजदीक है और कांग्रेस को 2022 में अच्छा मौका मिलने जा रहा है. ऐसे में सभी को एकजुट होने की जरूरत है और एक दूसरे पर बयानबाजी करने से बचना चाहिए.

बता दें कि इंदिरा हृदयेश कांग्रेस के स्वराज आश्रम में कार्यकर्ताओं और पदाधिकारी के साथ बैठक ले रही थीं. इस दौरान उन्होंने पार्टी के किसी भी पदाधिकारी या कार्यकर्ता को सोशल मीडिया पर बयानबाजी करने से बचने के साथ ही एकजुट रहने का आह्वान किया.

विशेष