देश/प्रदेश

सड़कों पर क्षतिग्रस्त पेयजल लाइन दे रहा हादसे को न्यौता

कर्णप्रयाग-जोशीमठ राजमार्ग पर राजनगर से सीएमपी बैंड और आइटीआइ क्षेत्र में जलसंस्थान के लीकेज पाइप से बह रहा पानी लोगों की आवाजाही के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है।

हैरत की बात यह है कि इस समस्या को लेकर लोग कई बार विभागीय अधिकारियों से वार्ता कर चुके हैं, लेकिन स्थिति अभी भी जस की तस है।

 

पूर्व विधायक प्रतिनिधि गजपाल सोनी, हरीश चौहान, सुशील थपलियाल, नवीन खंडूड़ी ने बताया कि बीते एक साल से कर्णप्रयाग-नैनीसैंण मार्ग के आइटीआइ के समीप और कर्णप्रयाग-जोशीमठ राजमार्ग सीएमपी बैंड से राजनगर तक नालियों व क्षतिग्रस्त पेयजल लाईनों से जगह-जगह पानी व जमा मलबा पैदल आवागमन को जोखिमभरा बना रहा है।

अब तक इस मार्ग पर कई दुपहिया वाहन चालक रपट कर घायल हो चुके हैं, लेकिन लीकेज पाईपों को ठीक नहीं किया जा सका है। इस संबध में जलसंस्थान के अवर अभियंता डीसी पुरोहित ने बताया कि समय-समय पर लीकेज पाईपों को ठीक किया जा रहा है, लेकिन वाहनों के आवागमन व ऑलवेदर रोड कार्य के चलते पेयजल लाईन क्षतिग्रस्त हो रही हैं।

आइटीआइ क्षेत्र में मुख्य पाईप लाइन से हो रहे रिसाव की शिकायत मिलने के बाद इसे ठीक करने के निर्देश कर्मचारियों को दिए गए हैं।

विशेष