Home गढ़वाल श्रमिकों का एनपीएस में कराएं पंजीकरण

श्रमिकों का एनपीएस में कराएं पंजीकरण

14
0
SHARE

चम्पावत : असंगठित क्षेत्र के शतप्रतिशत श्रमिकों का प्रधानमंत्री श्रम योगी मान-धन योजना में तथा डेढ़ करोड़ से कम टर्नओवर वाले सभी व्यापारियों का एनपीएस (नेशनल पेंशन स्कीम) में पंजीकरण कराना सुनिश्चित करें।

यह निर्देश शुक्रवार को जिला सभागार में प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना में पंजीकृत हुए श्रमिकों की विभागवार समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी एसएन पांडे ने दिए।

उन्होंने योजना के व्यापक प्रचार-प्रसार हेतु पब्लिक प्लेस में फ्लैक्स लगाने और उसमें योजना का विस्तार से उल्लेख करने को श्रम अधिकारियों को निर्देशित किया।

जिलाधिकारी ने कहा कि श्रमिक सीएससी (कॉमन सर्विस सेंटर) के माध्यम से अपना पंजीकरण करा सकते हैं। उन्होंने उद्योग विभाग, नगर पालिका, नगर पंचायत, चिकित्सा के साथ चाय बोर्ड, मनरेगा श्रमिक, आगनबाड़ी कार्यकत्री, सहायिका, भोजनमाता, समाज कल्याण विभाग के पेंशनर्स, संविदा कार्मिक जिनकी उम्र 18 से 40 वर्ष हो का अनिवार्य पंजीकरण कराने को कहा।

उन्होंने ग्रामीण श्रमिकों के पंजीकरण हेतु जिला पंचायत राज अधिकारी को ग्राम पंचायत विकास अधिकारियों के माध्यम से कराने तथा मुख्य शिक्षा अधिकारी को भोजन माताओं का पंजीकरण इस योजना में कराने को कहा।

उन्होंने कहा कि असंगठित कर्मकार यदि केंद्र सरकार द्वारा अंशदायी राष्ट्रीय पेंशन स्कीम अथवा कर्मचारी राज्य बीमा स्कीम या भविष्य निधि स्कीम के तहत सम्मिलित हो तो योजना से आच्छादित नहीं होगा।

श्रम अधिकारी मीनाक्षी भट्ट ने बताया कि योजना में 18 से 40 वर्ष तक के कर्मकारों को सम्मिलित किया गया है, जो कर्मकार बिना बाधित 60 वर्ष तक मासिक अंशदान जमा करेगा उसे 60 वर्ष की उम्र के बाद 3 हजार रुपये मासिक पेंशन देय होगी

18 वर्ष की आयु में 55 रुपये प्रतिमाह तथा 60वें वर्ष में 200 रुपये की धनराशि प्रतिमाह जमा करनी होगी। उन्होंने बताया कि वर्तमान तक 5500 पंजीकृत श्रमिकों के सापेक्ष योजना में विभाग द्वारा 700 श्रमिकों को तथा चिकित्सा विभाग द्वारा 172 श्रमिकों का पंजीकरण किया गया है।

बैठक में सीईओ आरसी पुरोहित, डीपीओ पीएस वृजवाल, श्रम अधिकारी मीनाक्षी भट्ट, डीएसडब्ल्यूओ आरएस सामंत, डीपीआरओ सुरेश बानी, एसीएमओ इंद्रजीत पांडेय, प्रबंधक चाय विकास बोर्ड डेसमन्ड, ईओ अभिनव कुमार, लोहाघाट कमल किशोर सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY