Home कुमायूं 17,000 पेंशन धारकों ने नहीं कराया वेरिफिकेशन

17,000 पेंशन धारकों ने नहीं कराया वेरिफिकेशन

8
0
SHARE

हल्द्वानी: कुमाऊं मंडल के ईपीएफओ से वर्तमान में करीब 24,500 लोग पेंशन लेते हैं. लेकिन अभी तक मात्र सात हजार लोगों ने ही अपने जीवित रहने का प्रमाण दिया है.

वहीं, 17,000 लोग ऐसे हैं जिन्होंने अपना जीवित प्रमाण-पत्र नहीं दिया है. ऐसे में इन पात्रों पर पेंशन रुकने का खतरा मंडरा रहा है.

वहीं, सहायक आयुक्त ईपीएफओ उदित शाह ने बताया कि, नवंबर और दिसंबर महीने में पेंशन धारकों से उनके जीवित रहने का प्रमाण पत्र बैंक या विभाग को मुहैया कराना होता है.

ये प्रमाण-पत्र बायोमैट्रिक प्रणाली द्वारा दिया जाता है. लेकिन अभी तक मात्र 7,000 हजार लोगों ने ही अपना जीवित प्रमाण-पत्र विभाग को दिए हैं और करीब 17,000 लोग ऐसे हैं, जिन्होंने अभी तक विभाग को अपने जीवित होने के प्रमाण नहीं दिया हैं.

सहायक आयुक्त ईपीएफओ उदित शाह ने बताया कि, ईपीएफओ विभाग से निजी कंपनियों में काम करने वाले सेवानिवृत्त कर्मचारी, अर्द्ध सरकारी, और निगम के अंतर्गत काम करने वाले सेवानिवृत्त कर्मचारी पंजीकृत हैं और इनको हर महीने पेंशन दिया जाता है. ऐसे में जिन पेंशन धारकों ने अपने जीवित होने के प्रमाण नहीं दिए हैं, जनवरी से उनकी पेंशन रोक दी जाएगी.

LEAVE A REPLY